उपरिशायी

बहुधा पूछे जाने वाले प्रश्न

विशेष आवश्यकता

प्रश्न.

यदि मुझे व्हील चेयर (पहिएदार कुर्सी) की आवश्यकता हो, तो मुझे क्या करना चाहिए ? क्या इसके लिए कोई अतिरिक्त शुल्क भी है ?

उत्तर.

पहिएदार कुर्सी की आवश्यकता होने पर आरक्षण, टिकट लेने या फिर आरक्षण की पुष्टि के समय इस बारे में निवेदन करना होगा| यात्रियों से अनुरोध है कि उड़ान बुकिंग/ टिकट जारी कराते समय पहले से ही व्‍हील चेयर बुक करा लें ताकि अंतिम समय के विलंब/ व्‍हील चेयर न मिलने की परेशानी से बचा जा सके । बुजुर्ग औऱ अशक्त यात्रियों के अलावा ऐसी चिकित्सीय परिस्थितियों से गुजर रहे यात्रियों (इसके लिए चिकित्सा संबंधी प्रमाण पत्र अनिवार्य है) से कोई शुल्क नहीं लिया जाता. यदि कोई यात्री चिकित्सकीय दृष्टि से अयोग्य है और उसे पहिए चलित कुर्सी की आवश्यकता है तो चिकित्सा सूचना प्रपत्र (एमईडीआईएफ) भरना होगा| यह प्रपत्र कंपनी की साइट से उपलब्ध है| यह 'स्वास्थ्य संबंधी आवश्यकताऐं' के अंतर्गत उपलब्ध है| अपने चिकित्सक द्वारा भरे हुए प्रपत्र के साथ नजदीकी एयर इंडिया के दफ्तर में संपर्क करें| हमारे चिकित्सा अधिकारी द्वारा इसे मंजूरी मिलने की प्रक्रिया में करीब 72 घंटे का समय लगता है| कुछ कार्यालयों जैसे कनाडा में 5 कार्यदिवस लगते हैं। कृपया इसके संबंध में स्‍थानीय कार्यालय से जानकारी ले लें।

शीर्ष
प्रश्न.

यदि मुझे स्ट्रेचर की आश्यकता है, तो मुझे किन औपचारिकताओं का पालन करना होगा ?

A.

इसके लिए आपको चिकित्सा सूचना प्रपत्र (एमईडीआईएफ) भरना होगा| यह प्रपत्र कंपनी की साइट से उपलब्ध है| यह 'स्वास्थ्य संबंधी आवश्यकताऐं' के अंतर्गत उपलब्ध है| अपने चिकित्सक द्वारा भरे हुए प्रपत्र के साथ नजदीकी एयर इंडिया के दफ्तर में संपर्क करें| हमारे चिकित्सा अधिकारी द्वारा इसे मंजूरी मिलने की प्रक्रिया में करीब 72 घंटे का समय लगता है| कुछ कार्यालयों जैसे कनाडा में 5 कार्यदिवस लगते हैं। कृपया इसके संबंध में स्‍थानीय कार्यालय से जानकारी ले लें।

शीर्ष
प्रश्न.

यदि मुझे उड़ान के दौरान ऑक्सीजन की आपूर्ति की आवश्यकता है तो कौन सी औपचारिकताएं पूरी करना होंगीं ?

उत्तर.

इसके लिए भी आपको पहले बताई गई प्रक्रियाओं का पालन करना होगा| आपको चिकित्सा सूचना प्रपत्र (एमईडीआईएफ) भरना होगा| यह प्रपत्र कंपनी की साइट से उपलब्ध है| यह 'स्वास्थ्य संबंधी आवश्यकताऐं' के अंतर्गत उपलब्ध है| अपने चिकित्सक द्वारा भरे हुए प्रपत्र के साथ नजदीकी एयर इंडिया के दफ्तर में संपर्क करें| हमारे चिकित्सा अधिकारी द्वारा इसे मंजूरी मिलने की प्रक्रिया में करीब 72 घंटे का समय लगता है|

शीर्ष
प्रश्न.

क्या मुझे पहिएदार कुर्सी ठीक विमान तक पहुंचने के लिए उपलब्ध हो सकेगी ?

उत्तर.

हां. लेकिन व्यावसायिक श्रेणी के यात्री ध्यान रखें कि यदि वे बी747/कॉंबी/ 744 प्रकार के यान से सफर कर रहे हैं तो उन्हें सीढ़ियां चढ़ना और उतरना होगा| अतः आरक्षण करवाने के पहले यान के प्रकार के बारे में आरक्षण केंद्र से सूचना प्राप्त कर लें| उपरोक्त यानों में आपको सीढ़ियां चढ़ने, उतरने, अपनी सीट तक पहुंचने तक सक्षम होने की जरुरत होगी|

शीर्ष
प्रश्न.

क्या मैं उड़ान के दौरान स्वयं की बिजली से संचालित पहिएदार कुर्सी को ले जा सका हूं?

उत्तर.

हां, लेकिन इस बारे में एक चिकित्सकीय प्रमाण पत्र उपलब्ध कराना होगा, जिसमें इसकी आवश्यकता और स्वयं की पहिएदार कुर्सी संचालित करने की जरुरत स्पष्ट की गई हो|

शीर्ष
प्रश्न.

उन परिस्थितियों में क्या होगा, यदि मुझे कुछ विशेष दवाएं अपने साथ ले जानी हैं या खास प्रकार की चिकित्सकीय मदद की आवश्यकता है?

उत्तर.

यदि आपको खास दवा या फिर चिकित्सकीय सहायता की जरुरत है तो आपको किसी भी हवाई यात्रा के दौरान इस संबंध में जारी चिकित्सकीय निर्देश साथ में रखना चाहिए. चिकित्सकों द्वारा सुझाई गई औषधियों को लेकर अलग अलग देशों में अलग अलग नियम हैं| कुछ देशों में कुछ दवाओं की सीमित आपूर्ति का नियम लागू है और हो सकता है कि आपको इसकी ज्यादा आवश्यकता हो. अतः यह बेहतर होगा कि आप दवाओं की अतिरिक्त मात्रा साथ लेकर चलें| किसी खास दवा के बारे में और जानकारी लेने के लिए अपने निजी चिकित्सक से परामर्श लें और उस देश के स्थानीय दूतावास से संपर्क करें, जहां की यात्रा प्रस्तावित है|

शीर्ष
प्रश्न.

यदि मेरा बच्चा अकेला सफर कर रहा है तो मुझे कौन सी औपचारिकताएं पूरी करना होंगीं ?

उत्तर.

जो बच्चे अकेले सफर करते हैं उन्हें बिना सहयोगी के अल्पवयस्क की श्रेणी में रखा जाता है और इसके लिए निर्धारत नियम और शर्तें पूरी करना जरूरी हैं| खाड़ी के देशों से और यहां के लिए यात्रा करने पर जो बच्चे 5 साल से उपर के हैं और 16 साल से कम के हैं, उन्हें बिना सहयोगी के अल्पवयस्क की श्रेणी में रखा जाता है, लेकिन दूसरे मार्गों के लिए बच्चे की उम्र 5 साल से ज्यादा और 12 साल से कम होना चाहिए| इस संबंध में लागू प्रपत्र वेबसाइट पर 'डाउनलोड' खंड में जाकर प्राप्त किया जा सकता है| इसे यात्रा करने के कम से कम तीन दिन कार्यकारी दिवस के पहले जमा करना होगा|

शीर्ष
प्रश्न.

क्या 16 वर्ष का किशोर बिना सहयोगी के अल्पवयस्क के रूप में सफर कर सकता है ?

उत्तर.

नहीं|

शीर्ष
प्रश्न.

यदि मैं चाहूं कि मेरा बच्चा, जो कि पांच साल से कम उम्र का है, के साथ सहयोगी के रूप में एक विमान परिचारिका रहे, तो मुझे क्या करना होगा ?

उत्तर.

इसके लिए नजदीकी एयर इंडिया के दफ्तर में संपर्क कर, सभी जरूरी औपचारिकताएं पूरी करें. टिकट स्वीकृत कर जारी करने की इस प्रक्रिया में कम से कम तीन कार्यकारी दिन लगेंगे| ''अकेले यात्रा कर रहे अवयस्‍क'' को केवल एअर इंडिया द्वारा प्रचालित उड़ानों पर ही स्‍वीकार किया जाएगा।

शीर्ष
प्रश्न.

गर्भवती महिलाएं गर्भावस्‍था की किस अवस्‍था तक अकेले यात्रा कर सकती हैं ?

उत्तर.

स्‍वस्‍थ गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्‍था का 32वां सप्‍ताह पूरा होने तक यात्रा की स्‍वीकृति दी जाती है ।

बुकिंग करते समय यदि गर्भावस्‍था की अवधि 32 सप्‍ताह से अधिक है एवं सामान्‍य डिलीवरी की आशा है तो गर्भवती महिला को गर्भावस्‍था का 35वां सप्‍ताह पूरा होने तक अर्थात् प्रसव की अनुमानित तिथि से कम से कम 5 सप्‍ताह पूर्व तक यात्रा की स्‍वीकृति दी जा सकती है । गर्भवती महिला को अपने ऑब्‍सटेट्रिशयन से चिकित्‍सा प्रमाण-पत्र लेना अपेक्षित होता है जिसमें यह उल्‍लेख हो कि वह यात्रा करने के लिए फिट है ।

यदि बुकिंग कराने की तिथि तथा प्रस्‍थान के बीच एक माह से अधिक का समय बीत गया है तो प्रस्‍थान से केवल तीन दिन पूर्व एक और प्रमाण पत्र लेना अपेक्षित होता है ।

गर्भावस्‍था के 35वें सप्‍ताह के पश्‍चात् गर्भवती महिला यात्री को केवल अत्‍यावश्‍यक होने पर अथवा अनुकंपा के आधार पर एमईडीआईएफ फार्म भरने के पश्‍चात् कार्यपालक निदेशक – चिकित्‍सा सेवा के प्राधिकार से यात्रा की स्‍वीकृति दी जाती है ।

शीर्ष
प्रश्न.

क्या किसी सहयोगी के साथ गर्भवती महिला असल प्रसव के समय तक सफर कर सकती है ?

उत्तर.

हां यह हो सकता है. लेकिन इसके लिए एयर इंडिया के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की इजाजत आवश्यक है. यात्री के साथ एक चिकित्सक होना अनिवार्य है और उन्हें एक क्षतिपूर्ति बंध-पत्र पर भी हस्ताक्षर करने होंगे. सामान्यतः यह सुविधा केवल अति आवश्यक या फिर अति संवेदनशील मामलों में ही उपलब्ध कराई जाती है|

शीर्ष
प्रश्न.

यदि मेरा वजन काफी ज्यादा है औऱ मैं एक अतिरिक्त स्थान चाहता / चाहती हूं तो मुझे क्या करना होगा ?

उत्तर.

आपको आरक्षण के समय एक अतिरिक्त स्थान के लिए निवेदन करना होगा और आरक्षण प्रपत्र में जरूरी टिप्पणी के बाद, आपको यह सुविधा मिल जाएगी| आपको एक ही टिकट जारी किया जाएगा, लेकिन भुगतान दो सीटों का होगा और आपको दर्शाई गई दो सीटें उपलब्ध कराई जाएंगीं|

शीर्ष
प्रश्न.

यदि मैं अपने पालतू जानवर को भी उड़ान में साथ ले जाना चाहूं तो क्या यह संभव है ?

उत्तर.

इस संबंध में आपको आरक्षण करवाते समय निवेदन करना होगा. कर्मचारी आपको कुछ औपचारिकताएं पूरी करने का सुझाव देंगे, जिन्हें आपको पूरा करना होगा| पालतू जानवरों को साथ ले जाने के लिए किराया, अतिरिक्त सामान ले जाने वाला सामान्य किराया ही होगा. हालांकि जानवर और उनके पिंजरों को मुफ्त सामान भत्ते की तरह ले जाने की अनुमति नहीं होगी| लेकिन कुत्तों को मुफ्त ले जाया जा सकता है यदि वह दृष्टिहीन या फिर बधिर यात्री की मदद करने के लिए प्रशिक्षित है और यात्री पूरी तरह से उस पर निर्भर हो| लेकिन इसके साथ ही इससे संबंधित चिकित्सकीय प्रमाण पत्र भी आवश्यक है. कुत्ता, यदि पूरी तरह साफ सुथरा हो तो उसे केबिन में सफर करने की इजाजत दी जा सकी है, लेकिन उसे सीट उपलब्ध नहीं कराई जाएगी| जानवरों को एयर इंडिया द्वारा संचालित अमेरिका के लिए सीधी उड़ान याने भारत - अमेरिका - भारत मार्ग पर सफर करने की अनुमति नहीं दी जाएगी| लेकिन सेवा में संलग्न कुत्ते, जो कि दृष्टिहीन और बधिर यात्रियों की मदद कर रहे हों, इसमें अपवाद रहेंगे, जिन्हें यात्री कक्ष में ले जाया जा सकता है|

पालतू जनवरों को तभी सफर की इजाजत दी जाएगी, जब वे उचित प्रकार से पिंजरे में रखे गए हों, और वाहक के पास आवश्यक वैध स्वास्थ्य और रेबीज टीकाकरण प्रमाण पत्र, प्रवेश परमिट और अन्य दस्तावेज हों, जो कि दूसरे देश में पालतू जानवर को ले जाने के लिए आवश्यक हैं. ये दस्तावेज जो कि यात्री की आवश्यकता के अनुरूप हों, यात्री की जिम्मेदारी पर ही स्वीकार किए जाएंगे यदि पालतू जानवर को किसी देश या प्रदेश में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाती तो इसकी पूरी जिम्मेदारी यात्री की होगी. एयर इंडिया ऐसे किसी मामले की कोई जिम्मेदारी नहीं लेगा|

शीर्ष
प्रश्न.

यदि मैं ऐसे पालतू जानवर को साथ ले जाना चाहूं जिसका आकार जहाज के कक्ष से बड़ा है तो क्या वाहक कंपनी उसे ले जाने की अनुमति देगी?

उत्तर.

हां. लेकिन पालतू जनवरों को तभी सफर की इजाजत दी जाएगी, जब वे उचित प्रकार से पिंजरे में रखे गए हों, और वाहक के पास आवश्यक वैध स्वास्थ्य और रेबीज टीकाकरण प्रमाण पत्र, प्रवेश परमिट और अन्य दस्तावेज हों, जो कि दूसरे देश में पालतू जानवर को ले जाने के लिए आवश्यक हैं. ये दस्तावेज जो कि यात्री की आवश्यकता के अनुरूप हों, यात्री की जिम्मेदारी पर ही स्वीकार किए जाएंगे यदि पालतू जानवर को किसी देश या प्रदेश में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाती तो इसकी पूरी जिम्मेदारी यात्री की होगी. एयर इंडिया ऐसे किसी मामले की कोई जिम्मेदारी नहीं लेगा|
**** पालतू जानवरों के परिवहन संबंधी नियम ****

शीर्ष
बंद करें

आप www.airindia.in की एक यात्रा साथी दौरा कर रहे हैं।

इस वेबसाइट एयर इंडिया के नियंत्रण में एक तीसरी पार्टी और नहीं के स्वामित्व और संचालित है।

आप अपने साथी के साथ सीधे एक समझौते में प्रवेश किया जाएगा. सभी अतिरिक्त संचार हमारे साथी द्वारा प्रदान ईमेल पता और / या फोन नंबर करने के लिए निर्देशित किया जाएगा।

आपके प्रश्नों / दावा है, किसी ने कहा कि वेबसाइट के आपके उपयोग से उत्पन्न, वेबसाइट और एयर इंडिया के मालिक के लिए पूरी तरह निर्देशित किया जाना चाहिए तो उस संबंध में जिम्मेदार और / या उत्तरदायी नहीं होगा।

जारी है

बंद करें

आप www.airindia.in के ट्रैवल पार्टनर की वेबसाइट पर जा रहे हैं।

यह वेबसाइट तीसरी पार्टी की है और उनके द्वारा प्रचालित की जाती है। इसका नियंत्रण एअर इंडिया के पास नहीं है।

आप को सीधे हमारे पार्टनर के साथ करार करना होगा। भविष्‍य में किए जाने वाले सभी पत्राचार हमारे पार्टनर द्वारा उपलब्‍ध कराए गए ई-मेल पते और/या फोन पर किए जाएं।

उक्‍त वेबसाइट का उपयोग करने से उत्‍पन्‍न किसी भी प्रश्‍न/दावे को सीधा वेबसाइट के स्‍वामी को भेजा जाए। इस संबंध में एअर इंडिया जिम्‍मेवार और/या उत्‍तरदायी नहीं होगी।

जारी है

Back to Top
साइट दर दे